Dhokebaaz Jaani Afsana Khan Vivek Anand Oberoi, Tridha Choudhury Vyrl Originals

लड़की ख़राब

Dhokebaaz  Jaani Afsana Khan Vivek Anand Oberoi, Tridha Choudhury Vyrl Originals chords
लड़की ख़राब

[Start]

[Intro]
Bb F C Dm Bb F C Dm Bb F

[Chorus]
      Dm           
हो हम बड़े थे मासूम
Gm7         Am7
बेलिहाज़ बन गये
   Dm      Dm7      
हम बड़े थे      मासूम
Gm7         Am7 Dm  Gm7 Am7
बेलिहाज़ बन गये           
      Dm      Dm7  
हो हम बड़े थे मासूम
Gm7         Am7
बेलिहाज़ बन गये
   Dm           
हम बड़े थे मासूम
Gm7         C   Dm 
बेलिहाज़ बन गये   

[Verse1]
   G          Gm     Am   
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
C           C7 
धोकेबाज़ बन गये
   Bb                C    
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
Dm          C  
धोकेबाज़ बन गये
   Bb                C    
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
Dm          C  
धोकेबाज़ बन गये
      Gm7     Am7   Bb    C     BbM7 
हो हम बड़े थे मासूम          

[Inst]
BbM7 Bb Dm C BbM7 Bb Dm F Dm Am

[Chorus]
    Dm                    
अरे कोई नहीं इस दुनिया में
    Gm7        Am7      
दिल जिसने अपना तोडा नहीं
     Dm7                
हमें गैरों ने भी लूटा है
   Gm7      C            
और अपनों ने भी छोड़ा नहीं
    Dm                    
अरे कोई नहीं इस दुनिया में
    Gm7   Am7           
दिल जिसने अपना तोडा नहीं
     Dm    Dm7           
हमें गैरों ने  भी लूटा है
   Gm7         Am7       
और अपनों ने भी छोड़ा नहीं

[Verse2]
   F        Dm7   
हम लोगों के लिए तो
Gm7      Am7
स्वाद बन गये
Dm7                
हम  लोगों के लिए तो
Gm7      C  
स्वाद बन गये
   C                 F    
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
C           C7 
धोकेबाज़ बन गये
   Bb                C    
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
Dm          C  
धोकेबाज़ बन गये
   Bb             C       
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
Dm          C  
धोकेबाज़ बन गये

[Chorus]
      Gm7     Am7   Bb    C     Dm    Gm7   Am7  
हो हम बड़े थे मासूम                           

[Inst]
BbM7 Bb Dm C BbM7 Bb Dm F Dm

[Chorus]
   Dm                     
हो जन्नत में रहने वालों के
C                 
जहनुम में सवेरे है
         Bb               
हो मैंने रंग बदलने सीख लिए
   C                     
अब मेरे भी लाखों चेहरे है
Dm                     
जन्नत में रहने वालों के
Dm                
जहनुम में सवेरे है
         Bb               
हो मैंने रंग बदलने सीख लिए
                 C       
अब मेरे भी लाखों चेहरे है
                    C 
मेरे भी लाखों चेहरे है
      Dm Dm7    
वो हम कल नहीं थे
Gm7       Am7
जो  आज बन गये
    Dm7                    
हाँ मेरी इज़्ज़त पे जानी जी
Gm7    C   Am  C7 
दाग बन गये      
   Bb                C    
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
Dm          C  
धोकेबाज़ बन गये
   Bb                C    
हो धोखेबाज़ों में रह रह के
Dm          C  
धोकेबाज़ बन गये

[Outro]
      C            
हो हम बड़े थे मासूम

[End]
Dm C Bb C Dm7 C Dm7 F
Transpose
PitchShift
Speed
Capo

Frequently asked questions about this recording

  • Do you know the artist that plays on 'Dhokebaaz Jaani Afsana Khan Vivek Anand Oberoi, Tridha Choudhury Vyrl Originals' ?
  • What chords are in Dhokebaaz Jaani Afsana Khan Vivek Anand Oberoi, Tridha Choudhury Vyrl Originals?
  • What tempo should you practice Dhokebaaz Jaani Afsana Khan Vivek Anand Oberoi, Tridha Choudhury Vyrl Originals by लड़की ख़राब?
  • What key does Dhokebaaz Jaani Afsana Khan Vivek Anand Oberoi, Tridha Choudhury Vyrl Originals have?
  • When did Dhokebaaz Jaani Afsana Khan Vivek Anand Oberoi, Tridha Choudhury Vyrl Originals hit the market?